शनिवार, 30 नवंबर 2019

वर्ष 2019 में देश में आयोजित होने वाली विभिन्न प्रमुख प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने वाले उम्मीदवारों के साथ ही अन्य स्टूडेंट्स के लिए सामान्य ज्ञान की दृष्टि से यह प्रश्न उपयोगी साबित होंगे।

  1. हाल ही 12 नवंबर 2019 को सिखों के किस गुरु की 550 वी जयंती मनाई गई? 
उत्तर :-  गुरु नानक देव


 2.  भारत में कुल कितने संरक्षित जैवमंडल (बायोस्फीयर रिजर्व)          है?  
उत्तर :-   18

 3.    इतिहास प्रसिद्ध 'वर्साय का महल' किस यूरोपीय देश की              राजधानी के पास स्थित है? 
उत्तर :- पेरिस (फ्रांस) 

 4.   वर्तमान में वस्तु एवं सेवा कर (गुड्स एंड सर्विस टैक्स                  जीएसटी) की उच्चतम कर स्लैब कितने प्रतिशत की है? 
उत्तर :-  28%

 5.   मणिकर्णिका तांबे को भारतीय इतिहास में किस प्रसिद्ध नाम         से जाना जाता है? 
उत्तर :- रानी लक्ष्मीबाई

  6.  पहला ज्ञानपीठ पुरस्कार किसे प्रदान किया गया था, 
उत्तर :- जी. शंकर कुरूप

  7. भारत में सूचना का अधिकार कानून किस वर्ष से लागू हुआ           है? 
उत्तर :- 2005 से

  8. आनुवंशिकी का जनक (फादर ऑफ जेनेटिक्स) किस                   वैज्ञानिक को कहा जाता है? 
उत्तर :-  जी.जे. मेंडल

  9.  प्रसिद्ध पुस्तक 'द पॉपुलेशन बॉम्ब' के लेखक कौन है? 
उत्तर :- पॉल आर. अर्लिच
      
  10.   फुटबॉल विश्व कप 2022 किस देश में प्रस्तावित है? 
उत्तर :-  कतर


वेटरनरी डॉक्टर को जलाने से पहले सामूहिक दुष्कर्म किया

 हैदराबाद । हैदराबाद में वेटरनरी डॉक्टर युवती से सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के मामले में पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। हैदराबाद के बाहरी इलाके से बुधवार रात को घर लौटते समय स्कूटी पंचर होने के बाद लापता हुई 27 वर्षीय युवती का गुरुवार को जला हुआ शव पुलिया के नीचे मिला था। डॉक्टर बुधवार को एक बार क्लीनिक से लौटकर शाम को दोबारा दूसरी जगह काम के सिलसिले में गई थी। 

                  टोल प्लाजा पर गाड़ी खड़ी कर वह कैब शेयर कर गई थी। लौटते समय उसको गाड़ी पंचर मिली। उसने अपनी बहन को फोन कर इसकी सूचना दी। साथ ही मदद के नाम पर पास में जमा हुए कुछ ट्रक वालों को लेकर डर जाहिर किया था। युवती की उसके बाद कोई खबर नहीं मिलने पर परिवार ने पुलिस से संपर्क किया। गुरुवार को उसका जला हुआ शव पुल के नीचे मिला। पुलिस को संदेह है कि बाहरी इलाके शमशाबाद में टोपली टोल प्लाजा के पास युवती से सामूहिक दुष्कर्म किया गया। फिर हत्या कर उसके शव को 25 किलोमीटर दूर रंगारेड्डी जिले के चटणप्ली पुल पर पेट्रोल छिड़ककर जला दिया गया। 

मंगलवार, 26 नवंबर 2019

भारत का संविधान

                        भारत का संविधान

                              उद्देशिका

     हम, भारत के लोग, भारत को एक संपूर्ण प्रभुत्व – संपन्न, 
       समाजवादी, पंथ –निरपेक्ष, लोकतंत्रात्मक गणराज्य
              बनाने के लिए तथा उसके समस्त नागरिकों को:

                 सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक न्याय, 
                 विचार, अभिव्यक्ति, विश्वास, धर्म
                 और उपासना की स्वतंत्रता
                 प्रतिष्ठा और अवसर की समता
                 प्राप्त कराने के लिए,
 
          तथा उन सब में व्यक्ति की गरिमा और 
          राष्ट्र की एकता और अखंडता 
          सुनिश्चित करने वाली बंधुता बढ़ाने के लिए


    दृढ़ संकल्प होकर अपनी इस विधानसभा में आज
    तारीख 26 नवंबर, 1949 ई.  (मिति मार्गशीर्ष शुक्ला
    सप्तमी, सावंत 2006 विक्रमी) को एतद् द्वारा इस संविधान
    को अंगीकृत अधिनियमित और आत्मार्पित करते हैं

मंगलवार, 19 नवंबर 2019

इंडस्ट्री के सबसे बड़े ब्लॉग्स कर सकते हैं आपको कवर

हर इंडस्ट्री में कुछ ऐसे लोग होते हैं जो बहुत लोकप्रिय होते हैं और जिनके ओपिनियन को इंडस्ट्री में सम्मान दिया जाता है। अगर आप एक अंत्रप्रेनोर है तो इन ब्लॉक्स पर आपके प्रोडक्ट या सर्विस का पिक्चर होना आपके वेंचर के लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। हालांकि इन पर पिक्चर होना खासकर अगर आप नहीं शुरुआत कर रहे हैं तो इतना आसान भी नहीं है, इसलिए यह पॉइंट्स आपके काम आएंगे। 

 द एक्सक्लूसिव न्यूज़

 कई ब्लॉग्स, एक्सप्लोसिव न्यूज़ को फीचर करने के लिए जाने जाते हैं। अगर आप उन्हें अपने बिजनेस से जुड़ी कोई बड़ी स्टोरी एक्सक्लूसिव के त्यौहार पर मुहैया करवाते हैं तो वे आपको 1 या उससे अधिक पोस्ट दे सकते हैं। बस आपको यह ध्यान रखना होगा कि यह खबर कहीं और लिक न हो। 

 छोटी खबरें देने से बचें

आप चाहे तो अपना छोटा- मोटा काम इस मॉल में मीडियम ब्लॉक्स को भेज सकते हैं, लेकिन इन्हें बड़े ब्लॉक्स में भेजने की जहमत न उठाए। जब आपके पास कुछ बहुत ही इंटरेस्टिंग हो जैसे आपके अपने ब्रांड का लांच तो ही उनसे संपर्क करें, साथ ही अपना प्रोडक्ट तैयार होने से पहले उनसे संपर्क ना करें। 

              टेक्स्ट के साथ हो मीडिया भी

अगर आप किसी गेम या एक जैसा कुछ लांच कर रहे हैं तो टेक्स्ट के साथ उसका डेमो या वीडियो देना जरूरी होगा। इससे वेब्लॉग्स अपनी पोस्ट में कोई लिंक दे सकते हैं। इसके साथ ही इससे ब्रांड को एक पर्सनल टच भी मिलता है और उन्हें पोस्ट पर अधिक मेहनत भी नहीं करनी पड़ती। 

इस्तेमाल करें कनेक्शंस

एक अंत्रप्रेनोर के तौर  पर आपने अपने फील्ड में कई कनेक्शंस बनाए होंगे। अगर इंडस्ट्री का कोई भरोसेमंद नाम आपको इन ब्लॉक्स से कनेक्ट करता है तो आपकी काफी संभावनाएं हैं कि वह आपको कवर करने के लिए तैयार हो जाए। 

रखें ऑडियंस का ध्यान

आप जिस ब्लॉग को पूछ कर रहे हैं उसकी ऑडियंस का ध्यान जरूर रखें। अगर इसकी ऑडियंस किसी का समूह से नाता रखती है तो उसे टारगेट करें और अगर वह ब्लॉक कहीं इंडस्ट्रीज को सर्व करता है तो कोशिश करें कि आप एक बड़ी ऑडियंस को कवर करें। 

रविवार, 17 नवंबर 2019

धोनी क्रिकेट से जल्द ही लेने वाले हैं सन्यास

              धोनी t20 विश्व कप के बाद लेंगे 

               अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास की खबरों पर उनके एक करीबी ने अभी विराम लगा दिया है। नाम नहीं छापने की शर्त पर उन्होंने बताया कि धोनी अभी संन्यास नहीं ले रहे हैं। उनके अंदर अभी बहुत क्रिकेट बाकी है और वह देश की सेवा भी करते रहेंगे। माही के दोस्त ने बताया कि 2020 में खेले जाने वाले आईपीएल और T20 वर्ल्ड कप के बाद ही ध्वनि सन्यास लेने पर विचार कर सकते हैं। वह कहते हैं कि बीसीसीआई भी नहीं चाहता है कि धोनी अभी सन्यास ले। धोनी अभी संन्यास ले लेंगे तो स्पॉन्सरशिप के साथ-साथ दर्शकों पर भी इसका खासा असर पड़ेगा। इसलिए धोनी अगले साल ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाले T20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया में शामिल रहेंगे। वहीं धोनी के करीबी दोस्तों में एक अमीर दिवाकर ने भी भास्कर से पुष्टि की कि धोनी अभी क्रिकेट खेलते रहेंगे। बताते हैं कि धोनी ने आईपीएल और वर्ल्ड कप T20 की तैयारी शुरू कर दी है। फिटनेस को लेकर वे हर दिन 4 से 5 घंटा पसीना बहा रहे हैं। मिहिर ने कहा कि धोनी ने संन्यास लेने के बारे में अभी तक सोचा नहीं है। जबकि हमेशा मीडिया और अन्य जगहों पर इसके चर्चा बनी रहती है। हालांकि लंबे समय से धोनी क्रिकेट से दूर है। आईसीसी वर्ल्ड कप का सेमी फाइनल मैच खेलने के बाद धोनी फिलहाल टीम इंडिया से दूर है। इंग्लैंड में सेमीफाइनल मैच जुलाई 2019 में खेला गया था। इसके बाद टीम इंडिया के सभी खिलाड़ी भारत आ गए थे। धोनी कुछ दिनों तक भारत में रहने के बाद अमेरिका चले गए। यहां कुछ दिन अपने दोस्तों के साथ समय बिताने के बाद इंडिया आए और शूटिंग में व्यस्त रहे, फिर लंदन गए। धोनी ने पिछले 28 दिन में सिर्फ 1 दिन ग्राउंड में बैटिंग कि। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच रांची में 19 अक्टूबर से टेस्ट मैच खेला गया था। 20 अक्टूबर को धोनी रांची पहुंचे। 

मंगलवार, 12 नवंबर 2019

केंद्र सरकार ने अयोध्या में रामलला मंदिर के लिए ट्रस्ट बनाने की प्रक्रिया शुरु की

अधिकारियों ने कोर्ट के फैसले के तकनीकी पहलुओं को जांचा

अयोध्या मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के 2 दिन बाद केंद्र में राम जन्मभूमि पर मंदिर बनाने के लिए ट्रस्ट बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। सोमवार को केंद्र सरकार के अधिकारियों के एक दल ने अदालत के आदेश के तकनीकी पहलुओं का बारीकी से अध्ययन किया। इस मामले में विधि मंत्रालय और अटॉर्नी जनरल की राय ली जाएगी कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के तौर-तरीकों को तय करने वाले ट्रस्ट का गठन कैसे किया जाए। हालांकि अब तक अधिकारियों का दल कोई भी निर्णय नहीं ले सका कि उसे ट्रस्ट बनाने की प्रक्रिया कैसे आगे बढ़ानी है। एक अधिकारी ने बताया कि अब तक यह भी साफ नहीं है कि गृह मंत्रालय और संस्कृति मंत्रालय राम मंदिर ट्रस्ट में नोडल बॉडी होंगे या नहीं। 

फैसले को लेकर 17 नवंबर को मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक

सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक 17 नवंबर को होगी। सुन्नी वक्फ बोर्ड के वकील और पर्सनल लॉ बोर्ड के सचिव जफरयाब जिलानी ने कहा कि इस बैठक में तय करना है कि फैसले पर पुनर्विचार याचिका दाखिल करनी है या नहीं। दरअसल कोर्ट के फैसले के बाद जिलानी ने कहा था कि वह फैसले का सम्मान करते हैं, लेकिन इससे संतुष्ट नहीं है। लेकिन सुन्नी वक्फ बोर्ड ने पुनर्विचार याचिका दाखिल करने से इंकार कर दिया। हालांकि पर्सनल लोन विचार कर रहा है।


संतसंत- बोले मंदिर बनने तक रामलला को अन्यत्र ले जाए 

 अयोध्या।अयोध्या के हनुमानगढ़ी मंदिर के महंत राजू दास ने कहा कि 1993 से रामलला टेंट में रह रहे हैं। भव्य मंदिर बनाने में 5 साल लग जाएंगे। अभी सरकार को ट्रस्ट बनाकर एक अस्थाई व्यवस्था के तहत भगवान राम को स्थानांतरित करने के लिए एक छोटे से भवन की व्यवस्था करनी चाहिए, ताकि श्रद्धालुओं को दर्शन करने में परेशानियों का सामना ना करना पड़े। 

शुक्रवार, 8 नवंबर 2019

दुनिया का सबसे महंगा केक: कीमत 7 करोड़ रुपए

 तीन कैरेट के हीरे लगाएं 

दुबई । दुबई के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर में दुल्हन के आकार का एक केक प्रदर्शित किया गया है। इसका वजन 120 किलो है। इसे दुनिया का सबसे महंगा केक बताया जा रहा है इसकी कीमत एक मिलियन डॉलर (करीब 7 करोड रुपए) है। इसकी खासियत यह है कि इसमें 3 कैरेट के हीरे और लेस वर्क का इस्तेमाल किया गया है। इसके अलावा छोटे - छोटे मोती भी लगाए गए हैं। रिपोर्ट के मुताबिक, यह 182 सेंटीमीटर लंबा है। केक को सजाने में 10 दिन का समय लगा। इसमें 5000 फूलों का इस्तेमाल किया गया है। 



  1.  5000 फुल लगे  
  2.   1000 अंडे लगे   
  3. 20 किलो चॉकलेट लगी
  4.  10 दिन लगे बनाने में   
  5. 182 सेंटीमीटर ऊंचा है

सोमवार, 4 नवंबर 2019

आईफोन 11 का सबसे खास और महत्वपूर्ण अपडेट है इसका कैमरा। इसे टेस्ट करने से पहले आपको कुछ सेटिंग्स और डबल चेक करना होगा। इसके खास फीचर्स की मदद से आप ने केवल अपनी सेल्फी को बेहतर बना सकते हैं बल्कि यह रात में क्लिक की गई फोटोस में भी कमाल करता है। हालांकि आपको अपने नए आईफोन 11 का फेस आईडी को ऑन करने के लिए कुछ मिनट्स का समय देना होगा। इसके अलावा इसमें फोन को अनलॉक करने के लिए फेस आईडी की सुविधा भी दी गई है।

face ID use

इस पिक्चर से फोन अनलॉक करना काफी आसान हो गया है। आईफोन 11 खरीदने वाले या तीन चार साल पुराने आईफोन को 11 में अपग्रेड करने वालों को भी इस एक काम में लेना सीखना होगा> फेस आईडी के सेटअप के लिए सेटिंग्स> फेस आईडी एंड पासवर्ड> सेटअप फेस आईडी में जाना होगा। अब आपके फोन उठाने पर यह फेस को स्कैन करेगा। 

optimised battery charging ko turn on karna

यह पिक्चर केवल आईफोन 11 या 11 प्रो के लिए ही नहीं है बल्कि आई ओ एस 13 में भी शामिल किया गया है। बैटरी ऑप्टिमाइजेशन ऐसे करें- सेटिंग> बैटरी> बैटरी हेल्प> ऑप्टिमाइज बैटरी चार्जिंग। इसके लिए यह क्लॉक ऐप में सेट किए गए किसी भी अलार्म के आधार पर हर रात आई फोन की बैटरी को चार्ज कर देगा।

 Wide Angle click

आईफोन 11 के दोनों मॉडल में अल्ट्रा वाइड एंगल कैमरा दिया गया है जिससे आप 120 डिग्री फील्डव्यू के साथ फोटोस और वीडियोस कैप्चर कर सकते हैं अपने फोन में कैमरा ऐप को ओपन करके0.5 xया1x बटन पर टाइप करें, ताकि कैमराज के बीच स्विच कर सके। अब आप दोनों डिफरेंट कैमरा ज्या अगर आपके पास आईफोन 11pro है, तो तीनों के बीच बड़ा अंतर पाएंगे।

 स्लोफी लेना 

एप्पल 120 फ्रेम प्रति सेकंड स्लो मोशन सेल्फी को स्लोफी दिया है। आईफोन 11के फ्रंट फेसिंग कैमरा में कुछ नई टेक शामिल है जैसे सलाफी कैप्चर करने की क्षमता। इसके लिए कैमरा ऐप को ओपन करके फ्रंट फेसिंग कैमरा में स्विच करने के बाद स्लो मोशन मोड को सेलेक्ट करें। अब शटर बटन पर टाइप करें और अपने किसी भी तेज मूवमेंट को कैप्चर करके क्रिएटिव होने का लुफ्त उठाएं। 

रविवार, 3 नवंबर 2019

बगदादी की मौत से लगेगी आतंक पर लगाम?

ऐसे हुए बगदादी और लादेन को मार गिराने वाले ऑपरेशन

हम आपको बता रहे हैं दो आतंकी सरगना को पकड़ने के लिए अमेरिका के अब तक के सबसे बड़े सैन्य ऑपरेशंस के बारे में। इस तरह बरसों अभियान चला, क्या तरीके अपनाएं और कैसे पकड़े गए आतंकी। 

2 घंटे में खत्म हुआ 9 साल का आतंक

 अबू बकर अल बगदादी

Islamic state of Iraq and Syria (आईएसआईएस) 

26 अक्टूबर 2019 को ऑपरेशन कायला में मारा गया

• सीरिया के इदलीब प्रांत में छुपा हुआ था। 
• 70 डेल्टा कमांडो ने ऑपरेशन को अंजाम दिया। 
• इस मिशन में 8 बोइंग ch-47 शिनूक हेलीकॉप्टर शामिल थे। 

महीनों पहले बगदादी की पत्नी और एक मैसेंजर को गिरफ्तार किया गया। सीआईए को उन्हीं से बगदादी की लोकेशन की सूचना मिली थी। आईएस का एक आतंकी भी आईएस छोड़कर कुर्द लड़ाकू में शामिल हो गया था। उसी ने बगदादी की उपस्थिति को और पुख्ता किया था इराकी अधिकारियों ने भी बगदादी की सूचना मुहैया कराने में सीआईए की मदद की। एक सीरियाई तस्कर से ठिकाने के साथ रास्तों की जानकारी जुटाई गई। बगदादी जिस बारिशा गांव के बाहर छुपा हुआ था, वह तुर्की की सीमा से सिर्फ 6 किलोमीटर दूर है। इस इलाके में आईएएस के कट्टर दुश्मन जिहादियों का कब्जा है। ऐसे में बगदादी के यहां छुपे होने पर सीआईए समेत ईरानी अधिकारियों को भी आश्चर्य हुआ था। 
कैसे हुआ ऑपरेशन? उत्तरी इराक से हेलीकॉप्टर ने अमेरिका के समय के हिसाब से शाम 5:00 बजे उड़ान भरी। सीरिया में उस वक्त रात के 10:30 बज रहे थे। कमांडोज ने सीरिया पहुंचकर 50 मिनट में ऑपरेशन को अंजाम दे दिया। सुरंग में छुपे हुए बगदादी ने खुद को बम से उड़ा लिया। 
कैसे हुई पहचान?  बगदादी की डीएनए नमूने की जांच से पहचान की पुष्टि की गई। इसके अलावा उसके दो अंडरवियर से भी पहचान हुई। बगदादी की बॉडी को इस्लामिक रीति रिवाज से समुंदर में दफनाया गया। 
क्या है डेल्टा फोर्स? अमेरिका की स्पेशल फोर्सेज ऑपरेशनल डिटैचमेंट - डेल्टा (डेल्टा फोर्स) के जवानों ने इस कार्यवाही को अंजाम दिया। अमेरिका की थल सेना के अधीन काम करने वाली यह फोर्स स्पेशल ऑपरेशन को ही अंजाम देती है। इसका गठन 19 नवंबर 1977 को हुआ था। 


 10 साल लगे थे लादेन को खोजने में

  ओसामा बिन लादेन

प्रमुख, अल कायदा 

2 मई 2011 को ऑपरेशन नेपच्यून स्पीयर में मारा गया। 

• एबटाबाद पाकिस्तान में छुपा हुआ था। 
• नेवी सील टीम 6 के 25 कमांडो ने सैन्य ऑपरेशन किया था। 
• 2 एमएच-60 ब्लैक हॉक हेलीकॉप्टर शामिल थे। 

सीआईए को लादेन की जानकारी लादेन के ही एक मैसेंजर खालिद शेख मोहम्मद के जरिए मिली थी। खालिद शेख 9/11 हमलों की साजिश में भी शामिल था। 2009 में सीआईए को खालिद शेख की लोकेशन एबटाबाद में मिली। पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद से महज 135 किलोमीटर दूर ऐबटाबाद में सीआईए ने 2010 में एक संदिग्ध मकान की पहचान की। मकान के आसपास भारी सुरक्षा भी थी। सैटेलाइट इमेज और इंटेलिजेंस रिपोर्ट के आधार पर लादेन के यहां छिपे होने का शक हुआ। पुख्ता करने के लिए सीआईए ने लोकल डॉक्टर शकील अफरीदी की मदद ली। डॉक्टर शकील ने एबटाबाद में फर्जी टीकाकरण अभियान चलाकर परिवार के डीएनए सैंपल लिए। 
कैसे हुआ ऑपरेशन? 2 मई 2011 को अमेरिकी समयानुसार दोपहर 1्.51 पर 25 कमांडो ने अफगानिस्तान से उड़ान भरी। उस वक्त पाकिस्तान में रात के 10.51बज रहे थे। एबटाबाद पहुंचने के महज 10 मिनट के अंदर ही ऑपरेशन पूरा हो गया और लादेन को गोली मार दी गई। 
कैसे हुई पहचान? लादेन को मारने के बाद कमांडोज उसकी बॉडी को बैग में भरकर वापस अपने साथ ले आए थे। इस मिशन के अगले दिन डीएनए जांच से उसकी पहचान की पुष्टि की गई। 
क्या है सील कमांडो? नेवी सील टीम-6 के कमांडोज नेवी सील की टीम से ही चुने जाते हैं। नेवी सील अपने आप में अमेरिका आर्मी की विशेष इकाई है। सील यानी सी एयर और लैंड तीनों में अपने ऑपरेशन को अंजाम देने में सक्षम सील यूनिट की स्थापना 1 जनवरी 1962 को हुई थी। 

शनिवार, 2 नवंबर 2019

कुछ ही मिनट में सेट कर सकते हैं एंड्रॉयड फोन का बैकअप

यूजर्स की स्मार्टफोंस पर निर्भरता के चलते इनमें उनका बड़ी मात्रा में प्रोफेशनल और निजी डेटा से होता रहता है। खास बात यह है कि इनमें उनका कुछ एटा महत्वपूर्ण भी होता है। ऐसे में फोन के खो जाने से चोरी होने का टूट जाने पर यह डाटा बड़े रिस्क पर हो सकता है। इसी परेशानी से बचने का सबसे आसान उपाय है अपने फोन के डाटा का बैकअप लेना और अच्छी बात है कि इसके लिए आपको अपने फोन में मौजूद built-in बैकअप सर्विस को सिर्फ ऑन करना होता है। 

 Android phones

जिस तरह से एप्पल में बैकअप के लिए आईक्लाउड की सुविधा होती है, ठीक उसी तरह एंड्राइड में भी इनबिल्ट बैकअप सर्विस होती है जो आपके डिवाइस की सेटिंग, वाईफाई नेटवर्क और गूगल ड्राइव में एप डाटा को ऑटोमेटिकली बैकअप कर देती है। यह सर्विस फ्री है और यूजर के गूगल ड्राइव अकाउंट में स्टोरेज का कोई हिसाब-किताब नहीं रखती। एंड्राइड डिवाइस को सेट अप करने के बाद गूगल की बैकअप सर्विस को बाय डिफॉल्ट की ऑन करें वह इसे चेक भी जरूर करें। अगर आपको ब्रेकअप सेटिंग ढूंढने में पैसा आ रही हो, तो सेटिंग्स ऐप में सर्च बार को काम ले। 


बैकअप एप्स डेटा settings

अपनी बैकअप सेटिंग्स देखने के लिए एंड्रॉयड डिवाइस पर सेटिंग ऐप को ओपन करके सिस्टम बैकअप पर टाइप करने से आपको "बैकअप टू गूगल ड्राइव" लिखा स्विच दिखेगा। वह ऑफ है तो ऑन कर दें। अगर आपने अपने फोन में एक से ज्यादा गूगल अकाउंट पर साइन इन किया है तो आप अकाउंट ऑप्शन पर टाइप करके यह सिलेक्ट कर सकते हैं कि कौन से गूगल अकाउंट में आप अपने बैकअप को स्टोर करना चाहते हैं। एक बार बैकअप को टर्न ऑन करने के बाद आपका फोन अपने आप ही कांटेक्ट, गूगल कैलेंडर इवेंट्स वेयर सेटिंग्स, वॉलपेपर, वाईफाई नेटवर्क पासवर्ड, जीमेल सेटिंग्स, एप्स आदि का बैकअप लेना शुरू कर देगा।

 फोटोज व वीडियोज

आपको पता होना चाहिए कि गूगल फोटोस आपको फोटोस और वीडियोस का असीमित बैकअप देता है और दूसरी बात यह भी कि यह सुविधा आपको तब तक मिलती रहती है जब तक गूगल के उन्हें हाई क्वालिटी में बदलने तक आप उसका नियमित और सही उपयोग करते रहेंगे। इसका मतलब है कि गूगल फोटो साइज को 16 मेगापिक्सल और वीडियोस को 1080p पर कि आपका देता है। इस विधा को अपनाने के लिए आप सबसे पहले अपने फोन में गूगल फोटोज एप को इंस्टॉल करें, बैकअप को टर्न ऑन करें और वह क्वालिटी चुनें जिसे आप इस्तेमाल करना चाहते हैं। 

शुक्रवार, 1 नवंबर 2019

देश में पहली बार स्मार्ट नेम प्लेट की शुरुआत उज्जैन से, इसमें लगा क्यूआर कोड बताएगा प्रॉपर्टी टैक्स, बिजली-पानी का बिल

क्यूआर कोड के जरिए ही कचरा रोज उठने की भी ट्रेकिंग होगी
देशभर में सो स्मार्ट शहर बनाए जा रहे हैं। इस योजना के तहत देश में पहली बार मध्यप्रदेश के उज्जैन में सवा लाख मकानों के सामने स्मार्ट नेम प्लेट लगाने का काम शुरू होने जा रहा है। नेम प्लेट में नाम पता और क्यूआर कोड अंकित होगा। क्यूआर कोड स्मार्ट सिटी कंपनी से जुड़ा रहेगा। इस कोड में घर के सदस्यों और ट्रैक से जुड़ी सभी जानकारी दर्ज होगी। क्यूआर कोड को मोबाइल एप स्कैन करते ही रहे वासी वह घर से संबंधित सभी जरूरी जानकारी उपलब्ध हो जाएगी। इस नेम प्लेट का एक और फायदा शहर को स्वच्छ रखने में मिलेगा। कचरा लेने आने वाले वाहन के चालक या सहायक को नेम प्लेट पर लगा क्यूआर कोड स्कैन करना होगा। इससे स्मार्ट सिटी कंपनी में उसका रिकॉर्ड दर्ज हो जाएगा। इस तरह किसी घर से कचरा लिया या नहीं, इसका डाटा ऑनलाइन रिकॉर्ड हो जाएगा। मॉनिटरिंग की जरूरत नहीं होगी गाड़ी की लोकेशन भी पता लगेगी। रहवासी को एक मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड कराई जाएगी। हर महीने रहवासी एप्लीकेशन से क्यूआर कोड को स्कैन करेंगे। इससे उन्हें पता चलेगा कि उनके पानी, बिजली, टेलीफोन का बिल कितना हुआ है। संपत्ति का पता भी चल जाएगा। स्मार्ट सिटी कंपनी की एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर प्रदीप जैन ने बताया कि स्मार्ट कंपनी जो एप्लीकेशन रहवासी को देगी, उस पर पेमेंट गेटवे भी रहेगा। रेवासी को मोबाइल पर पता चल जाएगा कि कितना टैक्स देना है। उसे ऑनलाइन पेमेंट भी कर सकता है। एक्रेलिक शीट की आधा इंच मोटी नेम प्लेट की लागत ₹500 है। पहली बार इसे नि शुल्क लगाया जाएगा। 


 फायदा : 24 घंटे बिजली पानी और बेहतर पर्यावरण मिलेगा

देशभर में सोई स्मार्ट सिटी के लिए 3 चरणों में काम हो रहा है यह है -रिट्रोफिटिंग, रीडिवेलपमेंट और ग्रीन फील्ड डेवलपमेंट, रिट्रोफिटिंग में बसे बरसाए शहर के अंदर ही सुधार का काम किया जा रहा है। रीडिवेलपमेंट के तहत पुराने शहर को स्मार्ट बनाया जा रहा है, ग्रीन फील्ड डेवलपमेंट योजना केस योजना मैं शहर के आसपास खाली इलाके में नए शहर बनाए जा रहे हैं, इस योजना में 24 घंटे बिजली पानी, कचरे का निपटान, बेहतर पब्लिक ट्रांसपोर्ट, स्वास्थ्य, शिक्षा, पर्यावरण का ध्यान रखना, महिलाओं, बच्चों और बुजुर्गों को सुरक्षित माहौल दिया जाएगा। 

self value😎😎😎

खुद की कीमत (सेल्फ वैल्यू)  दुनिया में हर चीज की कीमत होती हैं , यह बात सब को पता है।  हर चीज की कीमत भी तय की जा सकती हैं , कीमत बदली भी  ज...