रविवार, 29 दिसंबर 2019

देश में आयोजित होने वाली आगामी विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने वाले प्रशन

9 दिसंबर 2019 को यूनाइटेड नेशंस डेवलपमेंट प्रोग्राम यूएनडीपी द्वारा जारी मानव विकास सूचकांक रिपोर्ट 2019 में भारत को 189 देशों में कौन सी रैंक प्रदान की गई है?
उत्तर:- 129 वीं

विश्व प्रसिद्ध एंटीबायोटिक दवा पेनिसिलिन सर्वप्रथम किस सूक्ष्म जीव (माइक्रोऑर्गेनाइज्म) से प्राप्त की गई थी?
उत्तर:- फन्जाई (कवक)

अटल बिहारी वाजपेई पहली बार किस वर्ष भारत के प्रधानमंत्री बने थे?
उत्तर:- वर्ष 1996 में

बाल सरकार की फ्लैगशिप योजना 'मेक इन इंडिया' का लोगो क्या है?
उत्तर:- शेर (लायन)

भारतीय गवर्नर जनरल लॉर्ड मेयो के कार्यकाल में भारत में प्रथम जनगणना किस वर्ष हुई थी?
उत्तर:- वर्ष 1872 में

प्रसिद्ध काव्य संग्रह यामा के लिए किसे ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित किया गया था?
उत्तर:- महादेवी वर्मा

प्रसिद्ध कोयना बांध किस राज्य में स्थित है?
उत्तर:- महाराष्ट्र

भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की पहली महिला अध्यक्ष कौन थी?
उत्तर:- एनी बेसेंट

भारत में ग्रीन रिवॉल्यूशन (हरित क्रांति) का जनक किसे माना जाता है?
उत्तर:- एम.एस. स्वामीनाथन

बालाकोट एयर स्ट्राइक कब हुई?
उत्तर:- 26/2/2019 को

एंटी सैटेलाइट मिसाइल परीक्षण कब हुआ?
उत्तर:-27/3/2019 को

मोदी जी पुनः प्रधानमंत्री कब बने?
उत्तर:-23/5/2019 को

chandrayaan-2 लॉन्च कब हुआ?
उत्तर:-23/7/2019 को

ट्रिपल तलाक बिल पास कब हुआ
उत्तर:-30/7/2019 को

धारा 370 एंड 35a को कब हटाया गया?
उत्तर:-5/8/2019 को

अयोध्या में राम मंदिर का फैसला कब हुआ?
उत्तर:-9/11/2019 को

CAB बिल पास कब हुआ?
उत्तर:-11/12/2019 को



               राजस्थान के संभाग एवं जिले
संभाग (7)                                   जिले (33) 
 जयपुर              जयपुर, अलवर, दोसा, सीकर एवं झुंझुनू।
 कोटा                कोटाकोटा, बांरा, बूंदी एवं झालावाड़।
 उदयपुर             उदयपुर, राजसमंद, चित्तौड़गढ़, बांसवाड़ा, डूंगरपुर एवं प्रतापगढ़।
                         (प्रतापगढ़ को 26 जनवरी 2008 को नया जिला घोषित किया) ।
 जोधपुर              जोधपुर, पाली, जालौर, सिरोही, बाड़मेर एवं जैसलमेर।
 बीकानेर             बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़ एवं चूरु।
 अजमेर              अजमेर, टोंक, नागौर एवं भीलवाड़ा।
 भरतपुर              भरतपुर, धौलपुर, करौली, सवाई माधोपुर। 

फेसबुक अकाउंट हैक हुआ है तो फिर से ऐसे हासिल करें एक्सेस

आजकल नेट यूजर के लिए ऑनलाइन डेटा सेक्योरिटी और प्राइवेसी बड़े मुद्दे बन चुके हैं। इसके साथ या सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स भी हैकर्स के निशाने पर है। अगर आपको भी कभी यह महसूस हो कि आपका फेसबुक अकाउंट हैक हो गया है तो कुछ स्टेप्स है जिन्हें फॉलो करके आप अपने अकाउंट पर एक्सेस फिर से हासिल कर सकते हैं जानिए:-


             फेसबुक अकाउंट  से छेड़छाड़ को जाने

अकाउंट लॉग इन करने के बाद तो प्राइवेट में एरोहेड को क्लिक करें जिससे मैंन्यू  एक्सपेंड हो जाएगा। अब मैं न्यू से सेटिंग्स को पिक करके सिक्योरिटी एंड लॉग इन पर जाएं या लॉगिन टू फेसबुक वाला डायरेक्ट लिंक काम ले। यादों में उन डिवाइसेज की लिस्ट दिखाई देगी जिनसे अपने फेसबुक अकाउंट पर लॉगइन किया था साथ ही उनके एक्टिव होने का समय भी होगा। अब सी मोर पर क्लिक करके उस लिस्ट को एक्सपर्ट और पुराने सेशन  काे रिव्यू करें। अकाउंट हैक होने के इन लक्षणों पर भी गौर करें जैसे आपके पासवर्ड सहित निजी डेटा, ईमेल एड्रेस या नाम को किसी थर्ड पार्टी ने बदल दिया गया हो, आप के कुछ किए बिना आपके अकाउंट से फ्रेंड रिक्वेस्ट में प्राइवेट मैसेज भेजे गए हो या टाइमलाइन में ऐसी पोस्ट हो जिन्हें आपने पोस्ट नहीं किया हो। 


 Facebook password Badle

यदि एक ने पासवर्ड चेंज नहीं किया है तो संदेहास्पद सेशन को लॉग आउट करने से पहले तुरंत पासवर्ड अपडेट कर दें ताकि हैकर को अलर्ट होने का मौका ना मिले। सेटिंग्स> सिक्योरिटी एंड लॉगइनमें लॉगइन तक स्क्रोल डाउन कर पासवर्ड चेंज करें। अपना करंट पासवर्ड एंटर करके नया स्ट्रांग पासवर्ड बनाएं और फिर से चेंजेज पर क्लिक करें। लास्टपास जैसे पासवर्ड मैनेजर को काम में ले कर भी आप नया पासवर्ड बना सकते हैं। पासवर्ड चेंज करने के बाद स्क्रोलबैक करके वहां जाए जहां से लॉगिन किया था। अब या तो थ्री वर्टिकल डॉट्स को क्लिक करके इंडिविजुअल कैसे लॉग आउट करें या लोग आउट ऑफ ऑल सेशन नामक ऑप्शन को क्लिक करें। 


फेसबुक हैक को रिपोर्ट करें

हैकर आपके फ्रेंड्स को विज्ञापन और इस पर भेज रहा हो तो www.facebook.com/hacked/  को इस्तेमाल करके रिपोर्ट करें। अगर हैकिंग के कारण आप अपने अकाउंट के एक्सेस हो चुके हैं तो भी इस लिंक को काम में ले सकते हैं। फेसबुक आपके अकाउंट के एक्सेस को रिकवर करने में आपकी मदद करेगा। 



संदेहास्पद एप्लीकेशंस को रिमूव करें

हो सकता है कि आपने ही किसी मालीशियस फेसबुक एप्लीकेशंस को एक्सेस दिया हुआ और फिर उसी ने आपका अकाउंट हाईजैक कर लिया हो। ऐसे एप्लीकेशंस को हटाने के लिए सेटिंग्स एप्स एंड वेबसाइट्स पर जाकर लिस्ट को देखे। फिर सभी एक्टिव एप्स एंड वेबसाइट्स पर शो ऑल को क्लिक करके उन्हें वेबसाइट पर चेक मार्क सेट करें, जिन को हटाना चाहते हैं। फिर टॉप राइट में रिमूव बटन को क्लिक करने के बाद यह कंफर्म करें कि आप इन सोर्सेज से `डिलीट all posts, photos and videos और फेसबुक भी करना चाहते हैं। वैकल्पिक तौर पर व्यू एंड एडिट लिंक को क्लिक करके एप की परमिशन को चेंज करें इसमें यह ऑप्शंस शामिल है - ऐप विजिबिलिटी, आपकी पर्सनल इंफॉर्मेशन को एक से सौ और एक्शन जो यह ले सकता है।
 

शनिवार, 14 दिसंबर 2019

खोए हुए एंड्राइड को तलाशने में मदद करेगा फाइंड माय डिवाइस फीचर

आपके एंड्रॉयड डिवाइस (स्मार्टफोन, टेबलेट, स्मार्टवॉच आदि) में महत्वपूर्ण डाटा वे डाक्यूमेंट्स सेव होते हैं, इसलिए इन डिवाइसेज के खोने या चोरी होने से आप भारी मुश्किल में आ सकते हैं। हालांकि, गूगल आपको इस समस्या का समाधान भी देता है। चौकी यूजर्स के फोन उनके गूगल अकाउंट से सीधे लिंक होते हैं, इसलिए गूगल का फीचर, फाइंड माय डिवाइस (पुराना नाम- एंड्रॉयड डिवाइस मैनेजर) खोए हुए फोन को ढूंढने में मददगार है। इसे अपने फोन में शुरू करने के लिए यहां दिए जा रहे डायरेक्शन को फॉलो करें जो सैमसंग को छोड़कर बाकी कंपनीज के एंड्रॉयड फोंस (गूगल, हुआवे, शाओमी आदि) पर लागू होते हैं।

 सेटअप ऑन करना

गूगल का फाइंड माय डिवाइस पिक्चर किसी भी एंड्रॉयड डिवाइस पर ऑन हो तो संबंधित डिवाइस के खो जाने के बाद फाइंड माय डिवाइस एप्लीकेशन का इस्तेमाल करने वाले अपने दूसरे किसी एंड्रॉयड डिवाइस से उसे लोकेट कर सकते हैं। अब गूगल क्रैडेंशियल्स को काम में लेने वाले किसी अन्य ऐप पर साइन इन करें। यह एक्सपीरियंस आपके लिए डेस्कटॉप एक्सपीरियंस के समान ही होगा। 

इस तरह चेक करें सेटअप की स्थिति

सबसे पहले डिवाइस को पावर ऑन करें। 
क्विक सेटिंग देखने के लिए स्क्रीन के टॉप से दो बार पुल डाउन करने के साथ यह सुनिश्चित करें कि वाईफाई या मोबाइल डाटा ऑन हो।
अब फोन की सेटिंग्स पर जाए। 
यहां टाइप करें- गूगल»गूगल अकाउंट
अब सिक्योरिटी एंड लोकेशन पर टाइप करें। (नोट: कुछ फोन में »गूगल सिक्योरिटी पर टैप करें। 
फाइंड माय डिवाइस में यह कहेगा ऑन या ऑफ। अगर यह है तो फाइंड माय डिवाइस को टाइप करके स्विच को ऑन पर टॉगल कर दे। 
अब सिक्योरिटी एंड लोकेशन पर वापस जाकर प्राइवेसी सेक्शन को स्क्रोल डाउन करें। 
लोकेशन के अंदर यह कहेगा ऑन या ऑफ अगर यह ऑफ है, तो  लोकेशन को टाइप करके चीज को ऑन पर टॉगल कर दें। यहां आप फोन पर ऐप्स से आई सीसैट रिक्वेस्ट को देख सकते हैं। 
चाहे फोन बाय डिफॉल्ट गूगल पर विजिबल हो, लेकिन इसे   छिपाना संभव है। गूगल प्ले पर आपके डिवाइस का स्टेटस चेक   करने के लिए प्ले गूगल कॉम/सेटिंग्स पर जाए। उस पेज पर  आपको अपने डिवाइसेज की लिस्ट दिखाई देगी। अब   विजिबिलिटी के अंदर में न्यूज़ में सो को सेलेक्ट करें। 

                          इस्तेमाल करना सीखें

 •किसी ब्राउज़र पर https://www.google.com/android/find पर जाकर अपने गूगल अकाउंट पर लॉगिन करें। 
•अब फाइंड माय डिवाइस आपके स्मार्टफोन स्मार्टवॉच टैबलेट को खोजने का प्रयास करेगा अगर वह चालू हालत में है तो आपको एक मैप के साथ डिवाइस के लोकेशन पर ड्रॉप किया हुआ 1 दिन दिखाई देगा जैसे ही फाइंड माय डिवाइस पिक्चर चालू हालत में ही मिले तो इन तीन में से एक स्टेप को पूरा करें

प्ले साउंड : एंड्राइड को कोई भी सॉन्ग प्ले करने दीजिए, चाहे उसको साइलेंट पर सेट किया गया हो।
secure डिवाइस : आप डिवाइस को रीमोटली लॉक कर सकते हैं. आप लोग स्क्रीन पर एक मैसेज और फोन नंबर डाल सकते हैं ताकि कोई लौटा सकें। 
इरेज़ डिवाइस : अगर आपको डिवाइस के मिलने की संभावना नहीं लगती तो उसे वाइफ कर दे ताकि कोई आपकी डाटा को एक्सेस नहीं कर पाए। हालांकि यह फीचर फोन के ऑफलाइन होने पर काम नहीं करेगा। 

वर्ष 2019 में आयोजित होने वाली सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने वाले प्रश्न

•अक्टूबर, 2019 में जारी ग्लोबल हंगर इंडेक्स रिपोर्ट 2019 में 117 देशों में भारत को कौनसा स्थान दिया गया है? 

उत्तर:- 102 वां


•अकबर के शासन काल में किस ने भू राजस्व सुधार किए थे? 
उत्तर:-  टोडरमल

•तिब्बत से होकर भारत आने वाली यारलंग सांगपो नदी को भारत में किस नाम से जाना जाता है? 
उत्तर:-   ब्रह्मपुत्र नदी

•लोक सभा की प्रथम महिला सभापति स्पीकर कौन थी? 
उत्तर:-   मीरा कुमार

•'सिस्टमा नेचुरई' नामक विश्व प्रसिद्ध पुस्तक के लेखक कौन है? 
उत्तर:-  कैरोलस लीनेअस 

•मनुष्य के शरीर की सबसे छोटी अस्थि बोन का नाम क्या है? 
उत्तर:-  स्टेपीज

•फीफा वर्ल्डकप फुटबॉल टूर्नामेंट 2018 किस देश ने जीता है? 
उत्तर:-  फ्रांस

•वर्ष 2010 में भारतीय रुपए का प्रतीक चिन्ह सिंबल किसने डिजाइन किया था? 
उत्तर:-  उदय कुमार धर्मलिंगम

•वर्ष 2019 में भारत के किस व्यक्ति को रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान आर्डर ऑफ सेट एंड एंड्रयू द अपोस्टल द फर्स्ट कोल्ड से सम्मानित किया गया है? 
उत्तर:-   नरेंद्र मोदी

•भारत किस वर्ष संयुक्त राष्ट्र संघ यूएनओ का सदस्य बना था? 
उत्तर:-   1945 में

शुक्रवार, 13 दिसंबर 2019

भामाशाह के तहत आज से नहीं मिलेगा इलाज

रोज 6500 मरीज लेते हैं लाभ गुरुवार को 4500 को ही मिल सका! 

प्रदेश के 4.5 भामाशाह कार्ड धारको का गुरुवार रात 12:00 बजे से इलाज अटक गया। सरकार ने बुधवार को कहा था कि किसी निजी या सरकारी अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीज का बीमा क्लेम पूर्व अर्थव्यवस्था से पास किया जाएगा, लेकिन गुरुवार रात को दावा फेल हो गया। निजी अस्पतालों ने भामाशाह कार्ड धारको का इलाज करने से मना कर दिया और साफ कहा कि सरकार की ओर से उन्हें कोई आदेश नहीं मिले हैं। ऐसे में वे इलाज नहीं करेंगे। रोज भामाशाह के तहत 6500 से अधिक लोग इलाज कराते हैं लेकिन गुरुवार को 4500 को ही इलाज मिल सका। हालांकि सरकारी अस्पतालों में इलाज हुआ, लेकिन यहां भी आगे के आदेश नहीं आए हैं। 


बीमा कंपनी का टर्नओवर पूरा विभाग ने आगे की कार्रवाई के लिए किसी अस्पताल को नहीं बताया

12 दिसंबर की रात 12:00 बजे से भामाशाह कार्ड के इंश्योरेंस करने वाली कंपनी न्यू इंडिया का टर्नओवर पूरा हो रहा था, लेकिन विभाग ने इसे गंभीरता से नहीं लिया। चिकित्सा विभाग के अधिकारियों ने कहा कि टीपीए के माध्यम से 3 महीने तक क्लेम जारी रखेंगे। देर रात तक किसी भी अस्पताल को ने जानकारी दी गई, न कोई आदेश जारी हुए। अब निजी व सरकारी अस्पतालों ने अग्रिम आदेश नहीं आने तक शुक्रवार से इलाज करने से मना कर दिया है। 

एसएमएस अधीक्षक बोले- क्या करना है, हमें नहीं पता

 एसएमएस अस्पताल के अधीक्षक डॉ. डीएस मीणा ने कहा-  अभी आगे के आदेश नहीं मिले हैं। अभी आगे क्या करना है, इसका पता नहीं है। आदेश मिलते ही आगे के बारे में बता पाऊंगा। 


 निजी अस्पतालों ने कहा- सरकार से कोई आदेश नहीं मिले, क्लेम का पैसा मिलने से भी दिक्कत, इसलिए इलाज रोका

हमें ना तो कंपनी और ना ही सरकार स्तर पर कोई मैसेज मिला है। क्लेम का पैसा समय पर नहीं मिलना सहित और कई खामियां हैं, जिनकी वजह से परेशानियां होती हैं। और वैसे भी हमें विभाग की ओर से आगे के इलाज के आदेश नहीं मिले हैं, इसलिए इलाज रोका है। 


रविवार, 8 दिसंबर 2019

राष्ट्रपति की सुरक्षा में पैर छूकर चला गया एक युवक तो 6 पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दीया।

     जोधपुर में हाईकोर्ट के नए भवन का उद्घाटन

 जोधपुर| हाईकोर्ट की जोधपुर मुख्य पीठ के नए भवन का शनिवार सुबह राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उद्घाटन किया, लेकिन कार्यक्रम से पहले ही राष्ट्रपति की तीन स्तरीय सुरक्षा में बड़ी चूक सामने आई। खुफिया एजेंसियों हुए पुलिस जाब्ते को चकमा देकर सुबह 9:30 बजे अजमेर के पीसांगन निवासी दिनेश चंद रांकावत दीवार फांद कर ने केवल सर्किल हाउस में घुसा बल्कि उसने परिसर में बने अस्थाई डॉन में बैठे राष्ट्रपति के पैर तक छू लिए। अनजान शख्स को राष्ट्रपति के पास देखकर हड़कंप मच गया। पुलिस ने युवक को पकड़ लिया। वहीं, सुरक्षा में लापरवाही बरतने पर छह पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया गया है। मामले की जांच के आदेश भी दिए गए हैं। 


 राष्ट्रपति के पैर को छू कर चला गया कोई अनजान शख्स तो जल्द से छह पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया और जांच के आदेश दे दिए गए तो फिर जो आए दिन यहां पर हो रहे बलात्कार के लिए कोई जल्दी से कार्यवाही क्यों नहीं होती क्यों उनकी उम्र देखी जाती है क्या वह कोई इंसान नहीं है
                               खुद की रक्षा के लिए तो इतना कुछ कि कोई पेड़ चौकी क्या चला गया 6 पुलिस कर्मी को सस्पेंड कर दिया गया तो फिर क्या उन लड़कियों की कोई इज्जत नहीं है दिन का बलात्कार हुआ उनको न्याय दिलाने की कोई कोशिश नहीं क्यों


गरीब के लिए हाईकोर्ट-सुप्रीमकोर्ट पहुंचना बहुत खर्चीला  : कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा-  राजाओं के समय कोई भी घंटी बजा कर न्याय की गुहार कर लेता था, लेकिन अब न्याय हासिल करना बहुत खर्चीला है। हाईकोर्ट-सुप्रीमकोर्ट तक गरीबों का पहुंचना नामुमकिन हो गया है। फ्री कानूनी सहायता को बढ़ावा देने के लिए जरूरत है। न्याय प्रणाली में आम भागीदारी बनाने के लिए स्थानीय भाषाओं में भी फैसले देने चाहिए। राजस्थान में भी फैसले की प्रति हिंदी में उपलब्ध करवाने की शुरुआत हो। 

शुक्रवार, 6 दिसंबर 2019

फिर से बलात्कार जलता शरीर लेकर 1 किमी तक भागी दुष्कर्म पीड़ित 90% तक जलकर गिर गई

फिर उन्नाव कांड जमानत पर छूटे दुष्कर्मी उन्हें पीड़ित को आग लगाई? 

हैदराबाद कांड से देश भर में उपजे आक्रोश के बीच अब यूपी के उन्नाव में दरिंदों ने दुष्कर्म पीड़ित को आग लगा दी। जलाकर मार डालने की कोशिश करने वाले 5 लोगों में से 2 वही हैं, जिन्होंने दिसंबर 2018 में पीड़ित के साथ दुष्कर्म किया था। वह जमानत पर छूटकर आए थे। घटना गुरुवार तड़के हुई। लपटों से घिरी पीड़ित बचाने की गुहार लगाते हुए दूरी और 1 किमी दूर तक मकान तक पहुंचकर गिर गई। आवाज सुनकर बाहर निकले एक व्यक्ति ने आग बुझाई और अपने मोबाइल फोन से पीड़ित की पुलिस से बात कराई। तब पुलिस ने उसे अस्पताल पहुंचाया। लड़की 90% तक जल चुकी है। देर शाम उसे लखनऊ से एअरलिफ्ट दिल्ली भेजा गया। 


पिछले साल दिसंबर में हुआ था दुष्कर्म मार्च से आरोपी जेल में थे। 

पीड़ित ने इलाज के दौरान सब डिविजनल मजिस्ट्रेट दयाशंकर पाठक को बताया-
' गुरुवार सुबह मैं अपने साथ हुए दुष्कर्म के केस की सुनवाई के लिए रायबरेली की कोर्ट जा रही थी। रेलवे स्टेशन से ठीक पहले हरिशंकर त्रिवेदी, राम किशोर त्रिवेदी, उमेश बाजपाई, शिवम त्रिवेदी और शुभम त्रिवेदी ने मुझ पर हमला किया और आग लगा दी।' 


 तैयारी: इंटरनेट पर अश्लील सामग्री पूरी तरह रोकने के लिए सर्वदलीय समूह बना, एक माह में रिपोर्ट देगा
उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कांग्रेस नेता जयराम रमेश की अध्यक्षता में 14 सदस्य ही समूह बनाया यह अश्लील कंटेंट रोकने के उपाय सुझाएगा। 
सख्ती: हैदराबाद में वेटरनरी डॉक्टर से हैवानियत को लेकर सोशल मीडिया पर गलत टिप्पणी करने वाला आंध्र प्रदेश का एक छात्र गिरफ्तार हुआ है। 
• महिला आयोग की मांग - निर्भया के दुष्कर्मी की याचिका ठुकराए राष्ट्रपति। 


 बेशर्मी: यूपी के मंत्री बोले समाज में ऐसे अपराध रोकने की गारंटी तो भगवान राम भी नहीं दे सकते
उन्नाव की घटना पर योगी सरकार में खाद्य आपूर्ति राज्य मंत्री रविंद्र प्रताप सिंह ने कहाकहा- ' समाज में ऐसे अपराध रोकने की गारंटी तो खुद भगवान राम भी नहीं दे सकते।' घटना पर कांग्रेस नेता प्रियंका वाड्रा ने कहा कि भाजपा को अब फर्जी प्रचार से बाहर निकलना चाहिए। 

मंगलवार, 3 दिसंबर 2019

अमिताभ बच्चन की आने वाली नई फिल्म एक्शन से भरपूर और रोमांचक होगी

स्लोवाकिया में पोलैंड की जमा देने वाली सर्दी में करेंगे शूटिंग

  मेगास्टार अमिताभ बच्चन ने हाल ही में खुद के तकनीकी और शरीर द्वारा आराम  के संगीत भेजने के ट्वीट करके सनसनी फैला दी थी पर उनके आगामी एडवेंचर शेड्यूल को देखते हुए ऐसा लगता तो नहीं है कि वह अभी थके हैं अब अपनी अगली मिस्ट्री ट्रेलर फिल्म चेहरे के आखिरी शेड्यूल की शूटिंग के लिए वह यूरोप के शहरों स्लोवाकिया और पोलैंड में जमा देने वाली सर्दी के बीच एक जबरदस्त एक्शन सीक्वेंस को फिल्म आने वाले हैं वह अगले हफ्ते ही इस चुनौतीपूर्ण शूटिंग के लिए यूरोप रवाना हो जाएंगे

कैसा एक्शन दिखाएंगे बिग बी

फिल्म के निर्माता आनंद पंडित के अनुसार इस फिल्म के लिए अमिताभ बच्चन का एक बड़ा एक्शन सीक्वेंस लोहा कि आई राष्ट्रीय उद्यान में और दक्षिणी पोलैंड में शूट किया जाएगा इस पर काम आगामी 10 दिसंबर से शुरू हो रहा है अमिताभ का यह एक्शन दृश्य असल में एक चयन सीक्वेंस होगा और 8 दिनों तक चलने वाले इस शेड्यूल में अमिताभ बच्चन का एक हैंड टू हैंड फाइट सीन भी फिल्माया जाएगा इस पूरी खान सीक्वेंस को डिजाइन करने के लिए यूरोप के एक्शन डायरेक्टर के ग्रुप को प्रोजेक्ट से जोड़ा गया है यह पूरी शूटिंग बेहद चुनौतीपूर्ण कंडीशन में होगी वहां तापमान माइनस 5 से 7 डिग्री सेल्सियस रहेगा और वहां जमकर बस गिरी रही होगी इस शूटिंग के लिए यूरोप कि इन जगहों को दृश्यों की डिमांड के अनुसार ही चुना गया है इससे भी इंपोर्टेंट बात यह है कि यह लोकेशन अभी तक पूरी तरह आ रही है और इससे पहले कभी किसी भी फिल्म में इन लोगों को पर्दे पर नहीं दिखाया गया है बकौल आनंद पंडित इन खास जगहों पर शूटिंग के लिए उनकी टीम को स्पेशल परमिशन भी हासिल करनी पड़ी है

अमिताभ बच्चन इस समय भी जबरदस्त काम में जुटे हुए हैं वह मनाली में -3 डिग्री तापमान में अयान मुखर्जी की फिल्म ब्रह्मास्त्र की शूटिंग कर रहे हैं वहीं से उन्होंने यह शब्द लिखे हैं

अमिताभ की कलम से    माइनस 3 डिग्री में काम करना काफी चुनौतीपूर्ण
• अपने वर्क शेड्यूल के लिए मनाली के जंगल में पहुंच गया हूं।काम की दौड़ शुरू हो गई है। हमारे सामने काम को समय से पहले और उनको नैतिकता के साथ पूरा करने की चुनौती होती है, लेकिन कोई परवाह किए बगैर हम उसे करते रहते हैं। - 3 डिग्री में काम करना चुनौतीपूर्ण है। लेकिन हर छोटी जरूरत को पूरा करने वाले लोगों की मौजूदगी सराहनीय और प्रशंसा के योग्य है। 

• 10 दिसंबर से शुरू हो गया अमिताभ के इस ऐक्शन सीक्वेंस         की शूटिंग
• 8 दिनों तक यूरोप में चलेगी इस महत्वपूर्ण सीन की शूटिंग
• 24 अप्रैल 2020 को पर्दे पर दिखाई देगा अमिताभ का यह           जौहर। 



self value😎😎😎

खुद की कीमत (सेल्फ वैल्यू)  दुनिया में हर चीज की कीमत होती हैं , यह बात सब को पता है।  हर चीज की कीमत भी तय की जा सकती हैं , कीमत बदली भी  ज...