सोमवार, 27 अप्रैल 2020

रिलायंस जियो मार्ट का नंबर व्हाट्सएप्प पर ऑनलाइन हुआ, अभी मुम्बई के आस-पास के इलाकों में ट्रायल

तीन करोड़ किराना दुकानों को प्लेटफॉर्म से जोड़ेगा


फेसबुक के साथ करीब 43 हजार करोड़ की डील करने के बाद खबर है कि रिलायंस जियो मार्ट अपने ऑफिशियल नंबर के साथ व्हाट्सएप्प पर लाइव हो गया है मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जियो मार्ट फिलहाल नवी मुंबई ठाणे और कल्याण क्षेत्र में मौजूद हैं। उम्मीद की जा रही है। कि यह सर्विस जल्द ही पूरे देश में लॉन्च कर दी जायेगी।
              जियो मार्च से ऑर्डर करने के लिए उसके व्हाट्सएप्प नंबर को फोन पर ऐड करना होता है। इसके बाद जियो मार्ट व्हाट्सएप्प चैट के जरिए यूजर को लिंक भेज देता है। यह लिंक 30 मिनट के लिए वैलिड रहता है। इस लिंक पर क्लिक करने के बाद यूजर को नए पेज पर डायरेक्ट किया जाता है। वहाँ यहां वह अपना पता और फोन नम्बर भर सकता। है यूजर द्वारा जरूरी जानकारी दिए जाने के बाद जियो मार्ट उसे उपलब्ध सम्मान का कैटलॉग दिखाता है।

अपने ब्रांडेड सामान भी बेचेगी रिलायंस


किराना स्टोर्स के जरिए रिलायंस अपने लेबल वाले सामान बेचने की योजना पर काम कर रही है। ब्रांड नाम के तौर पर बेस्ट फॉर्म्स, गुड्स लाइफ, मस्ती ओये, काफे, एंजोय मौप्ज, एक्सपेल्ज और होम वन जैसे नाम इस्तेमाल किए जायेंगे। रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और एमडी मुकेश अंबानी ने कहा है कि निकट भविष्य में जियो मार्ट और व्हाट्सएप्प देशभर के तीन करोड़ किराना स्टोर को अपने प्लेटफॉर्म पर जोड़ेगी।

एफएमसीजी कंपनियों को भी मिलेगी चुनौती


इस रणनीति से अमेजन और, फ्लिपकार्ट जैसी कंपनियों को चुनौती मिलेगी। अगर रिलायंस अपने ब्रांडेड सामान पर जोर देती, है तो इससे एफएमसीजी सेक्टर की कंपनियां को, भी प्रतिस्पर्धा मिल सकती है अमेजन, फ्लिप्कार्ट भी देश में किराना स्टोर्स को अपने प्लेटफॉर्म से जोड़ने की योजना पर काम कर रही है।

सोमवार, 13 अप्रैल 2020

Daily Current Affairs 12 april Current affairs 2020 Current gk-UPSC-Railway

    Daily Current Affairs 12 April 2020

1  हाल ही में विश्व में होमियोपेथी दिवस कब मनाया गया ?
Ans.  10 अप्रैल को मनाया गया और इसके जनक सेमुअल हैनी                   में थे ।



2   उत्कल दिवस कब मनाया जाता है ?
Ans. 1 अप्रैल ।


3   विसव स्वास्थय दिवस (WHD) कब मनाया जाता है ।
Ans. 7 अप्रैल ।


4   पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित गायिका का निधन हुआ है 


     इनका नाम क्या था। 
Ans. शांति हीरानंद चावला, इनको 2007 में पद्मश्री पुरस्कार               सम्मानित किया गया। 


5    हाल ही में जारी FIFA की नवीनतम ranking में भारत            कोनसे स्थान पर है ।
Ans. 108 स्थान पर और टॉप पर बेल्जियम, फीफा की स्थापना 1904  मैं हुई headquarter jurik Switzerland mein hai और इसका हेड ज्ञानी इंफिनिटी हैै। 

6   फीफा वर्ल्ड कप 2022 को होस्ट करेगा कतर
7  फीफा वर्ल्ड कप 2026 को होस्ट करेगा यूएसए, मैक्सिको,            कनाडा

8   हाल ही में किस राज्य ने अपने राज्य में लॉक डाउन की सीमा       को बढ़ाकर 1 मई तक कर दिया है। 
Ans. पहला राज्य  ओडिशा,  पंजाब राजधानी चंडीगढ़, चंडीगढ़ भारत का पहला केरोसिन मुक्त शहर है, और जिला गुजरात का गांधीनगर है। 


9   रॉक गार्डन चंडीगढ़ में है और इसका निर्माण नेकचंद द्वारा            बनाया गया है। 

9   हाल ही में किसे इफको टोकियो कि नहीं एमडी और सीईओ         के रूप में नियुक्त किया गया है। 
 Ans. Anamika Roy,  स्थापना 3 नवंबर 1967 को हुई और            हेड क्वार्टर इसका नई दिल्ली है

10  हाल ही में किस कंपनी ने कोविड- 19 से लड़ने के लिए                यूनिसेफ के साथ हाथ मिलाया है। 
Ans. हिंदुस्तान युनिलीवर, स्थापना 1933 मेंे, हेड क्वार्टर मुंबई               महाराष्ट्र, सीईओ संजीव मेहता

11   कोरोना वायरस की वजह से 100 से ज्यादा मौत वाला देश          का पहला राज्य कौन सा है। 
 Ans।. महाराष्ट्र। 


12    भारत पढ़े ऑनलाइन अभियान को किस मंत्रालय ने शुरू             किया

 Ans. HRD मंत्रालय। 

13    IQ AIR के डाटा के मुताबिक दुनिया के शीर्ष 20 सबसे              प्रदूषित स्थानों में भारत के कितने शहर शामिल है
 Ans.  दो शहर मुंबई, कोलकाता

14    किस राज्य के इंजीनियरिंग के एक छात्र ने डॉक्टरों के                 स्थान पर रोगियों की देखभाल करने के लिए एक इंटरनेट             नियंत्रित रोबोट का निर्माण किया है
Ans. छत्तीसगढ़, राजधानी है रायपुर। 

15     हाल ही में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने प्रधानमंत्री और सांसदों के             वेतन में कितने प्रतिशत की कटौती करने की घोषणा की है
 Ans 30% 

रविवार, 12 अप्रैल 2020

'कोरोना की संजीवनी' आखिरभारत कैसे दुनिया का मददगार बनकर उभर रहा है

वह दवा जिसके लिए पहले ट्रंप ने भारत पर दबाव बनाया फिर आभार जताया


दवा मलेरिया की, मांग कोरोना में; भारत सबसे बड़ा सप्लायर, हर महीने बना सकता है 30 करोड़ टेबलेट

दुनिया कोरोनावायरस संकट से जूझ रही है कोरोना के खिलाफ कोई कारगर दवा अभी तो नहीं है ऐसे में सिर्फ एक दवा हाइड्रोक्सी क्लोरोकेम क्वीन की सबसे ज्यादा चर्चा है केंद्र सरकार ने 25 मार्च में इसके निर्यात पर बैन लगा दिया था बाद में अमेरिकी राष्ट्रपति की मांग पर बैठे गया सिर्फ अमेरिका ही नहीं दुनिया के कई देश भारत से इस दवा की मांग कर रहे हैं यह दवा करो ना कि मलेरिया की है शुरुआती स्तर पर अभी तक कोरोना के संक्रमण और लक्षणों को कम करने में सबसे ज्यादा प्रभावी माना जा रहा है कि शनिवार को देश के स्वास्थ्य मंत्री ने एक बार फिर स्पष्ट किया कि इसको और कितनी है इस बारे में नहीं करता है यह दवाई ली जाए
  पिछले चंद्र साल से भारत में एंटी मलेरिया और रूमेटाइड अर्थराइटिस के उपचार में उपयोग की जा रही है इस दवाई के अचानक से बाजार में किल्लत हो गई सबसे पहले बड़े पैमाने पर दूसरे विश्व युद्ध के दौरान इस दवा का उपयोग हुआ था यह टेबलेट मूल रूप से इम्यून पावर को बढ़ाती है भारत ने 13 देशों के लिए अपना पहला कंसाइनमेंट भेज भी दिया है इनमें अमेरिका स्पेन जर्मनी आदि शामिल है देश में 80 परसेंट एचसीक्यू एक्का और राइडर्स कैडिला कंपनियां बनाती है एक्का ने एक मीडिया ग्रुप को बताया कि एचसीक्यू के कुल उत्पादन का 10 परसेंट इस्तेमाल है देश में होता है बाकी 90% 50 देशों को एक्सपोर्ट कर दिया जाता है अमेरिका ने भारत से इसकी 4800000 टैबलेट्स मांगी है हालांकि भारत ने 35 लाख टेबलेट भेजने को ही अनुमति दी है
       आइए जानते हैं आखिर क्यों इस दवा की इतनी डिमांड बढ़ गई है और कोरोना के इलाज में इसका क्या संबंध है


 hydroxychloroquine दवा के बारे में वह सब कुछ जो आपको जानना चाहिए

 क्या है एचसीक्यू
एचसीक्यू एंटी मलेरिया ड्रग है यह क्लोरो किन का एक रूप है क्लोनोपिन का उपयोग मलेरिया के इलाज में होता है एचसीक्यू का उपयोग मलेरिया के अलावा रूमेटाइड अर्थराइटिस जैसी बीमारियों में होता है यह इम्यूनिटी बढ़ाती है 1974 में एचसीक्यू का अविष्कार किया हुआ था

 क्यों चर्चा में है भारत
अमेरिका ब्राजील सहित दुनिया के कई देश इस समय इस दवा के लिए भारत पर निर्भर है फॉर्ब्स की एक रिपोर्ट के अनुसार दुनिया भर में इस्तेमाल होने वाले कुल एचसीक्यू टेबलेट का 70 परसेंट उत्पादन भारत में ही किया जाता है भारत इस दवा का बड़ा सप्लायर है

 कैसे विश्व निर्भर
दरअसल मच्छरों की समस्या के चलते भारत में इसका उत्पादन ज्यादा होता है चूंकि अमेरिका जैसे विकसित देशों में मलेरिया फैलाने वाले मच्छरों का प्रकोप कम है ऐसे में वहां इस दवा का उत्पादन नहीं होता

 कितनी क्षमता हमारी
केंद्र के मुताबिक भारत वर्तमान में प्रतिमा है अभी से 30 करोड टेबलेट बना सकता है फिलहाल हम क्षमता का महज 50% ही उत्पादन कर पा रहे हैं लोक डाउन से असर पड़ा है फार्मास्यूटिकल मार्केट रिसर्च कंपनी एआईओसीडी अवाक्स फार्माटेक के अनुसार फरवरी 2020 तक अंतिम 12 माह में एचसीक्यू का मार्केट साइज 152.80 करोड़ रू था 

इन 4 सवालों से समझिए एचसीक्यू और कोरोना का कनेक्शन
1. क्या एचसीक्यू से करो ना ठीक होता है
नहीं अभी तक यह साबित नहीं हुआ है कि एचसीक्यू करो ना का इलाज है अलग-अलग अध्ययन बताते हैं कि यह दवा कोई नाइनटीन वायरस के असर को कम कर सकती है पर उसे खत्म नहीं कर सकती अमेरिका इंग्लैंड स्पेन और ऑस्ट्रेलिया समेत कई देशों में ट्रायल जारी है विशेषज्ञ मानते हैं कि नतीजे पर पहुंचने से पहले बड़े स्तर पर क्लिनिकल ट्रायल्स की जरूरत है एचसीक्यू की प्रभावशीलता को लेकर दो बड़े परीक्षण चल रहे हैं पहला है डब्ल्यूएचओ का सॉलिडेरिटी ट्रायल जिसका हिस्सा भारत भी है वही दूसरा क्लोरो क्लीन एक्सीलरेटर ट्रायल है जो वेलकम ट्रस्ट यूके और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन द्वारा किया जा रहा है

2.  क्या यह दवा सुरक्षित है
नहीं इसके कुछ साइड इफेक्ट्स भी देखे गए हैं
5 प्रमुख साइड इफेक्ट 
हार्ट ब्लॉक, घबराहट, चक्कर आना, उल्टी और डायरिया

15 अमेरिकी रिसर्च सेंटर अभी एचसीक्यू के अवसर पर रिसर्च कर रहे हैं इसमें से 6 का कहना है कि दवा के असर को समझने में महीनों लगेंगे

 पिछले महीने मार्च में अमेरिका के एरीजोना मैं क्लोरोक्वाइन फास्फेट खाने के बाद मौत हो गई थी जो मलेरिया से बचने वाली एचसीक्यू में इस्तेमाल किया जाता है

चीन में अध्ययन बताता है कि जिन मरीजों को एचसीक्यू दी गई उनमें अन्य की तुलना में ठीक होने में कोई तेजी नहीं देखी गई जबकि साइड इफेक्ट देखा गया

3.  फिर इस दवा के इतनी मांग क्यों है
Indian Council of Medical Research ने उन हेल्थ केयर वर्कर्स को इसे देने की अनुशंसा की थी जो करुणा के मामलों को संभाल रहे हैं साथ ही जिन लोगों में करुणा के लक्षण तो नहीं है लेकिन वह कोरोना मरीजों के संपर्क में आए हैं तो डॉक्टर की सलाह से एचसीक्यू खा सकते हैं ट्रंप द्वारा दवा की मांग करने के बाद इसकी मांग बढ़ी है हालांकि अमेरिका में ही करो ना मैं इसके कारगर होने को लेकर डॉक्टर वैज्ञानिकों में मतभेद है ट्रंप ने इसके लिए जिस फ्रांसीसी रिसर्च का हवाला दिया है उसे ही कहीं विशेषज्ञ बकवास मान रहे हैं

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप कई बार इस दवा को सबसे कारगर बता चुके हैं

48 लाख टेबलेट मांगी है अमेरिका ने भारत से एचसीक्यू की

13 देशों को भारत इस दवा की पहली खेप चुका है

3.38 करोड़ टेबलेट है भारत के पास एचसीक्यू यानी कुल घरेलू जरूरत का 3 गुना ज्यादा स्टोर स्टॉक

30 करोड़ टेबलेट का भारत हर माह उत्पादन कर सकता है

इम्यून माडिलेशन करती है इसलिए हो सकती है प्रभावी

Hydroxychloroquine का मुख्यतः उपयोग रूमेटाइड अर्थराइटिस में किया जाता है जो कि एक इम्यून डिजीज है यह दवा इम्यून मोटिवेशन का काम करती है अब क्योंकि कोर्ट ने भी इम्यून से ही जुड़ी हुई बीमारी है ऐसे में हो सकता है कि यह लाभकारी हो हालांकि अभी तक इसका कोई प्रूफ नहीं है लेकिन लक्षणों के आधार पर यह सही लगता है एक बात यह भी है कि यह दवा दूसरी दवा के साथ कॉन्बिनेशन में दी जाती है कोई ना में भी इसे अजित्रोमायकिन के साथ कहीं जगह लिया जा रहा है एक और महत्वपूर्ण बात यह है कि हार्ट पेशेंट बीपी और लीवर की बीमारी से जूझ रहे पेशेंट में इसके साइड इफेक्ट ज्यादा दिखते हैं यह ब्लड बनने की प्रक्रिया में भी विपरीत प्रभाव डाल सकती है ऐसे में इस दवा को देने के साथ ही इनसे जुड़ी जांच भी जरूरी है

जुड़वा भाइयों ने संभाली कोरोना के विरुद्ध कमान

तस्वीर में नजर आ रहे यह दो शख्स ब्रिटेन के लेफ्टिनेंट कॉल मोकशी और डॉ पॉल मोकशी है दोनों जुड़वा है खास बात यह है कि कोरोना की लड़ाई में दोनों एक ही अस्पताल में ड्यूटी करने पहुंच गए हैं लंदन में एन एच एस नाइटिंगेल हॉस्पिटल बन रहा है 4000 बेड के इस अस्पताल को बनाने में लगी टीम कॉल के नेतृत्व में काम कर रही है सर्जन पोल की भी ड्यूटी यही लगी है

30 तक लोकडाउन बढ़ाने को राजी हुई केंद्र और राज्य सरकार।

राजस्थान में 700 हुए कुल मरीज, जयपुर के कुल 301 मरीजों में से 270 रामगंज के।



प्रधानमंत्री ने 
मुख्यमंत्री के
 साथ बैठक में कहा-
पहले हमारी नीति
 थी- 'जान है तो 
जहान है', लेकिन 
अब नीति है-
 'जान भी, जहान भी'

    30 तक लोकडाउन को सब राजी 

 देशव्यापी लोक डाउन 30 अप्रैल तक बढ़ाने पर केंद्र और राज्य सरकारों में सहमति बन गई है केंद्र ने अभी औपचारिक घोषणा नहीं की है लेकिन महाराष्ट्र सरकार ने शनिवार को लोक डाउन 30 तक बढ़ा दिया है अब ओडिशा और पंजाब सहित तीन राज्यों में लोग डाउन बढ़ चुका है
                गमछे कुमार की तरह इस्तेमाल कर मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि संकट आत्मनिर्भर बनने और भारत को आर्थिक महाशक्ति बनाने का अवसर लाया है पहले सरकार की नीति थी जान है तो जहान है लेकिन अब यह जान भी जहान्वी हो गई है उन्होंने कहा कि लोक डाउन 2 हफ्ते बढ़ाने पर सभी राज्य सहमत है केंद्र और राज्यों के प्रयासों से कोरोनावायरस महामारी का असर घटाने में काफी मदद मिली है लेकिन हालात तेजी से बदल रहे हैं लगातार निगरानी जरूरी है संक्रमण रोकने के कदमों का असर अगले तीन-चार हफ्ते में दिखेगा उन्होंने राज्यों से आग्रह किया कि लोग का सख्ती से पालन करवाना जारी रखें 25 मार्च से लागू 21 दिन की अवधि 14 अप्रैल को खत्म हो रही है लड़ाई के संसाधन जुटाने के लिए केंद्र से वित्तीय सहायता भी मांगी वीडियो कॉन्फ्रेसिंग मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश हरियाणा और पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री प्रमुख है


राजस्थान में 139 नए रोगी जयपुर के 80 में से 77 रामगंज से एक की मौत के बाद रिपोर्ट पॉजिटिव

प्रदेश में शनिवार को जयपुर के नए 80 नए मरीजों सहित कुल 139 संक्रमित मिले इसके अलावा जयपुर के सूरजपोल में एक व्यक्ति की मौत के बाद उसकी रिपोर्ट को रोना पॉजिटिव आई अब प्रदेश में कुल 700 मरीज हो गए हैं जबकि 9 मौतें हो चुकी हैं जयपुर में अब तक 301 मरीज हो चुके हैं शनिवार को जयपुर में मिले 80 मरीजों में अकेले रामगंज से 77 लोग हैं डराने वाली बात यह है कि c-scheme का भी एक रोगी मिला है अब रामगंज इलाके में ही कुल 270 मरीज हो गए हैं प्रदेश में पांचला के कोरोना के गढ़ बनते जा रहे हैं इनमें रामगंज के अलावा बांसवाड़ा का कुंभलगढ़ कोटा के तेल घर में चंद्र घटा टोंक के बंबोरी गेट तथा जैसलमेर का पोकरण इलाका शामिल है बांसवाड़ा के छोटे से इलाके कुंभलगढ़ में शनिवार को 13 नए मरीजों को मिलाकर 2 दिन में ही 25 कोरोना परसेंट हो गए कोटा के तेल घर में चंद्र घटा इलाके में 14 सामने आए अब यहां 33 रोगी हो गए हैं टोंक के बंबोरी गेट इलाके में अभी तक का सबसे बड़ा विस्फोट हुआ और 20 नए रोगी मिले अब यहां से तालीस रोगी हो गए हैं जैसलमेर के पोकरण में एक मरीज मिला यहां कुल 28 रोगी हो गए हैं चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने दावा किया है कि अब तक पॉजिटिव रिपोर्ट वाले 116 लोगों की अब रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है इनमें से 58 लोग ऐसे हैं जिनके 14 दिन पूरे होने पर ठीक होने की रिपोर्ट पर छुट्टी भी दे दी गई है इनके अलावा शनिवार को बीकानेर में छह दोसा में एक करौली में एक झालावाड़ में दो एक मरीज मिला। 

लोक डाउन के दौरान आर्थिक गतिविधियां शुरू करने के प्रयास होंगे

प्रधानमंत्री ने जान भी जहान भी के जरिए संकेत दिए कि लोक डाउन पार्ट 2 में पाबंदियां में कुछ ढील रहेगी उन्होंने कहा सरकार का प्रयास है कि आर्थिक गतिविधियां ऐसे शुरू की जाए जिससे संक्रमण के खिलाफ लड़ाई पर असर न पड़े आर्थिक मोर चौक पर प्रयास शुरू होंगे। 

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा लोग लव नहीं होता तो देश में 15 अप्रैल तक 8 पॉइंट 200000 लोग संक्रमित होते

Knockdown containment Ke Bina 15 April Tak 8.2 lakh sankramit Ho Jaate

सिर्फ कंटेनमेंट होता और लोग डर नहीं होता तो आंकड़ा 2 पॉइंट 1 लाख हो जाता

लोक डाउन और कंटेनमेंट लागू करने से अभी आंकड़ा 8000 है
स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि कड़े कदम नहीं उठाते तो देश में संक्रमण 41% की दर से फैलता

केंद्र के अनुसार कोरोना मरीजों के लिए एक लाख आइसोलेशन बेड साड़ी 11000 आईसीयू बेड रिजर्व किए जा चुके हैं

शनिवार, 11 अप्रैल 2020

सीएम अशोक गहलोत के दो बड़े ऐलान।

सार्वजनिक जगह धोका तो केस करो ना से मौत पर 11 तरह के कर्मियों के आश्रितों को 50 लाख देंगे। 


कोरोना के बढ़ते कहर के बीच राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को दो बड़े ऐलान किए। पहला - सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर रोक लगा दी है। हालांकि गुटखा, पान मसाला आदि पर पूरी रोक तो नहीं लगाई। है इन आदेशों की अवहेलना की स्थिति में संबंधित के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत दंडात्मक कार्यवाही अमल में लाई जायेगी। दूसरा अब प्रदेश के कांस्टेबल पटवारी, ग्राम सेवक सहित 11 तरह के कर्मचारियों, कोरोना की रोकथाम, के दौरान संक्रमित होने, से, मौत पर, उनके आश्रितों को 50 पचास लाख रुपये की, आर्थिक मदद दी जाएगी। अभी केंद्र के निर्देश के अनुसार केवल स्वास्थ्य कर्मियों, के लिए ही 50 लाख रूपये का बिल में तय किया, गया था, जिसका दायरा राज्य सरकार ने बढ़ा। दिया हालांकि शिक्षित वर्ग में इस को लेकर सवाल, है, कि उनकों इस दायरे में बाहर क्यों रखा गया, सार्वजनिक जगह पर ठोकने, पर, रोक, के संबंध, में शुक्रवार, को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित, कुमार, सिंह, ने, अधिसूचना जारी की जो इसी वक्त से प्रभावी मानी जायेगी।


सभी राज्य कर्मी संविदाकर्मी और मानदेय कर्मी होंगे लाभान्वित।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को बताया। कि केंद्र सरकार के बीमा कवर का दायरा बढ़ाते हुए राज्य सरकार द्वारा स्वास्थ्य कर्मियों, के अलावा अन्य सभी राज्य कर्मचारियों (पटवारी, ग्राम सेवक, कांस्टेबल आदि) संविदा कर्मचारी (सफाई कर्मचारी, स्वास्थ्य कर्मचारी आदि) एवं मानदेय कर्मचारी, होमगार्ड, सिविल डिफेंस आशा सहयोगिनि आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आंगनबाड़ी सहायिका मिलनी आशा इत्यादि को इसके दायरे में लाया। गया है 50 लाख रुपये की यह बीमा राशी मृत्य कर्मचारियों, के आश्रित हो या परिवार को दी जायेगी।


कुरो ना संक्रमण रोकने के लिए यहां वहां टूटने की आदत पर कड़ी पाबंदी जरूरी है, रोहित सिंह।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार, सिंह ने बताया। कि व्यापक लोकहित में, राजस्थान एपिडेमिक डीजीजेजएक्ट 1957 की धारा 2 में, प्रदत शक्तियों का प्रयोग करते हुए थूक या वाहन व अन्य चबाए जाने वाले तम्बाकू व गैर तम्बाकू उत्पादों के खाने के बाद भी एक और, सार्वजनिक स्थानों व्यवस्था। वे संस्थानो। मैं पर तुरंत प्रभाव से रोक लगा। दी है आमजन द्वारा सार्वजनिक स्थानों पर थूकने से, कोई नाइट इन का संक्रमण फैलने की आशंका है, संक्रमण रोकने के लिए आमजन की इन आदतों पर सख्ती से प्रतिबंध लगाना बहुत जरूरी हो गया था।

self value😎😎😎

खुद की कीमत (सेल्फ वैल्यू)  दुनिया में हर चीज की कीमत होती हैं , यह बात सब को पता है।  हर चीज की कीमत भी तय की जा सकती हैं , कीमत बदली भी  ज...